वाशिंगटन: कोरियाई प्रायद्वीप पर अमेरिका, दक्षिण कोरिया और जापान का युद्धाभ्यास क्या उत्तर कोरिया के खिलाफ जंग छेड़ने की तैयारी है? नॉर्थ कोरिया के हाइड्रोजन बम परीक्षण के बाद इस क्षेत्र में तनाव काफी बढ़ गया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन एक-दूसरे को कई धमकियां भी दे चुके हैं.
गौरतलब है कि इसी हफ्ते अमेरिकी B-1B बमवर्षक विमान और दक्षिण कोरियाई लड़ाकू विमान ने संयुक्त रूप से युद्धाभ्यास किया है. व्हाइट हाउस के स्टाफ प्रमुख जॉन केली गुरुवार को कहा कि अमेरिका को उत्तर कोरिया की बढ़ती परमाणु ताकत के प्रति सतर्क रहने की जरूरत है. हालांकि केली के मुताबिक धमकी के बाद भी हालात पर काबू पाया जा सकता है.
अमेरिकी नौसेना ने बताया कि अमेरिका और दक्षिण कोरिया अगले हफ्ते से एक बड़े नौसेना अभ्यास की शुरुआत करेंगे. ये अभ्यास उत्तर कोरिया के परमाणु और मिसाइल परीक्षणों के खिलाफ अपनी शक्ति का प्रदर्शन करने के लिए किया जाएगा. उत्तर कोरिया के हथियार कार्यक्रमों के कारण पिछले कुछ महीनों में तनाव काफी बढ़ गया है.
अमेरिका के प्रतिबंधों की अवहेलना करते हुए प्योंगयांग ने कई मिसाइलों का प्रक्षेपण किया और अपने छठे और सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण को अंजाम दिया. अमेरिका ने तब से क्षेत्र में अपने दो करीबी देशों दक्षिण कोरिया और जापान के साथ सैन्य अभ्यास को बढ़ा दिया है. एक बयान में अमेरिका के सातवें फ्लीट ने कहा कि इस अभ्यास में दक्षिण कोरिया के नौसैन्य जहाजों के साथ यूएसएस रोनाल्ड रेगन लड़ाकू विमान वाहक और दो अमेरिकी विध्वंसक शामिल किए जाएंगे.
इस बयान में कहा गया कि 16 अक्टूबर से 26 अक्टूबर तक जापान के सागर और पीला सागर में होने वाला ये अभ्यास, संचार, पारस्परिकता और साझेदारी को बढ़ावा देंगा. यह कदम प्योंगयांग को भड़का सकता है जिसने कुछ समय पहले किसी आगामी संयुक्त सैन्य अभ्यास के खिलाफ चेतावनी दी थी.
सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए की खबर के मुताबिक, उत्तर कोरिया ने कहा है, ‘अगर अमेरिकी साम्राज्यवादी और उनकी कठपुतली जापान, हमें परमाणु युद्ध के लिए भड़काते हैं तो इसका परिणाम केवल उनका खात्मा होगा.’ मंगलवार को ट्रंप ने उत्तर कोरिया के परमाणु और मिसाइल परीक्षण का जवाब देने के लिए अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा टीम के साथ कई विकल्पों पर चर्चा की थी.

Related Post

Subscribe to Blog via Email

Web Maintenance, Update by