ब्रेकिंग arvind kejriwal press conference after 4 months2
सभी को मिलकर प्रदूषण की समस्‍या का समाधान खोजना होगा: अरविंद केजरीवाल – smog effect arvind kejriwal

नई दिल्‍ली: धुंध की चादर में लिपटी दिल्‍ली-एनसीआर की हालत पर चिंता जाहिर करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम सभी को मिलकर इस समस्‍या का समाधान खोजना होगा. हर साल इस समय तकरीबन एक म‍हीने तक दिल्‍ली की हालत ‘गैस चैंबर’ की तरह हो जाती है. इसके साथ ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शहर में प्रदूषण के बढ़े हुए स्तर को देखते हुए मंगलवार को उप मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से स्कूलों को कुछ दिनों तक बंद रखने पर विचार करने को कहा.
दिल्ली में मंगलवार को वायु प्रदूषण ‘बेहद गंभीर’ स्तर पर पहुंच गया. सुबह में धुंध की बेहद मोटी परत छाई रही और प्रदूषण का स्तर कई बार बर्दाश्त करने लायक स्तरों से ऊपर पहुंचा. केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ”प्रदूषण के बढ़े स्तर को देखते हुए, मैंने शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से स्कूलों को कुछ दिनों तक बंद रखने पर विचार करने का आग्रह किया है.” भारतीय चिकित्‍सा संघ (आईएमए) ने भी बच्चों की सेहत पर वायु प्रदूषण के खतरनाक प्रभावों को देखते हुए दिल्ली सरकार से अपील की है कि वह स्कूलों में आउटडोर खेलों और ऐसी अन्य गतिविधियों को बंद करवाए.
नमी और प्रदूषकों के मेल से शहर पर धुंध की मोटी परत छाए रहने के कारण कल शाम से वायु गुणवत्ता और दृश्यता में तेजी से गिरावट शुरू हो चुकी थी. मंगलवार सुबह 10 बजे तक, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने वायु गुणवत्ता की स्थिति ‘बेहद गंभीर’ दर्ज की जिसका अभिप्राय है कि प्रदूषण बहुत ज्यादा बढ़ गया है.

Related Post

Subscribe to Blog via Email

Web Maintenance, Update by